Home » HOME » कोविड के चलते Election Rally पर लगा प्रतिबंध 22 जनवरी तक बढ़ाया गया

कोविड के चलते Election Rally पर लगा प्रतिबंध 22 जनवरी तक बढ़ाया गया

election rally ban

चुनाव आयोग ने बढ़ते कोरोना के बीच स्वास्थ्य मंत्री से मुलाकात की है और चुनावी रैलियों (Election Rally) पर लगे 15 जनवरी तक के बैन को बढ़ाने को लेकर चर्चा की है। आपको बता दें की पांच राज्यों में चुनावों की डेट घोषित करते वक्त चुनाव आयोग ने प्रचार के लिए बड़ी रैलियों पर 15 जनवरी तक प्रतिबंध लगाया था। आज इस प्रतिबंध की अंतिम तिथी थी। इसी को लेकर स्वास्थ्य मंत्रालय से चुनाव आयोग ने चर्चा की है। और 22 जनवरी तक प्रतिबंध बढ़ाने का फैसला लिया है।

चुनाव आयोग ने कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए रैलियों पर प्रतिबंध कुछ और दिन के लिए बढ़ाया है। अब ये 22 जनवरी तक जारी रहेगा। जिन पांच राज्यों में चुनाव होने हैं वो कोविड के लिहाज़ से काफी संवेदनशील माने जा रहे हैं।

इस बार चुनाव आयोग ने खास दिशा निर्देश जारी किए हैं

  • चुनाव आयोग ने कहा कि 22 जनवरी तक कोई भी चुनावी रैली, रोडशो, पदयात्रा या साइकिल यात्रा नहीं होगी। 8 बजे रात से सुबह 8 बजे तक कोई चुनाव रैली नहीं होगी।
  • चुनाव आयोग ने कहा कि दागी उम्मीदवारों को अखबारों में अपने आपराधिक मामलों की जानकारी तीन बार प्रकाशित करानी होगी।
  • सार्वजनिक स्थानों पर कोई नुक्कड़ सभा नहीं होगाी। मतगणना के बाद कोई भी विजय जुलूस की इजाजत नहीं होगी।
  • कोरोना नियमों का पूरी तरह कड़ाई से पालन कराया जाएगा। इसके लिए निर्वाचन अधिकारियों को कार्रवाई के अधिकार होंगे।
  • चुनाव ड्यूटी में लगे कर्मियों को वैक्सीन की दोनों डोज लगना भी जरूरी है। उन्हें प्रिकॉशन यानी बूस्टर डोज लगाने की सिफारिश भी की गई है, ताकि वे सुरक्षित रहें।
  • चुनाव आयोग राज्यों के स्वास्थ्य सचिवों के साथ वैक्सीनेशन स्टेटस की निगरानी करेगा। मतदान का समय भी एक घंटे बढ़ाया गया है।
  • चुनाव में उम्मीदवारों को ऑनलाइन नामांकन की सुविधा होगी। इससे निर्वाचन कार्यालय में भीड़ से बचा जा सकेगा।
  • कोरोना संक्रमित व्यक्ति भी अपना वोट डाल सकेगा।कोरोना मरीज या संदिग्ध के घर वीडीओ टीम के साथ चुनाव आयोग की टीम विशेष वैन से जाएगी।वोट डलवा कर आएगी
  • (Assembly Elections Date) उत्तर प्रदेश में 10 फरवरी को पहले चरण और 7 मार्च को आखरी सातवें चरण के बाद 10 मार्च को आएंगे नतीजे
READ:  संक्रांति स्पेशल: ठंड में खूब खाएं सफेद तिल, ये हैं फायदे- नुकसान

You can connect with Ground Report on FacebookTwitterInstagram, and Whatsapp. For suggestions and writeups mail us at GReport2018@gmail.com

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.