Babri Demolition Case : जज की वो पांच टिप्पणियां, जो आपका भरोसा 'न्याय व्यवस्था' से उठा देंगी

Babri Demolition Case : जज की वो पांच टिप्पणियां, जो आपको सोचने पर मजबूर कर देंगी..

Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

6 दिसंबर 1992 को अयोध्या में बाबरी विध्वंस केस (Babri Demolition Case) पर सीबीआई की विशेष अदालत ने बुधवार को अपना फैसला सुनाया। 28 साल पुराने बाबरी विध्वंस केस (Babri Demolition Case) में सीबीआई के जज एस के यादव ने पर्याप्त सबूतों के अभाव में सभी आरोपियों को बरी कर दिया है।

विशेष अदालत ने पूर्व उप प्रधानमंत्री लालकृष्ण आडवाणी, पूर्व केंद्रीय मंत्री मुरली मनोहर जोशी, यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह,  उमा भारती, विनय कटियार समेत कुल 32 आरोपियों को बरी कर दिया है।

हाथरस गैंगरेप मामले में प्रधानमंत्री मोदी ने लिया संज्ञान, दिए कड़ी कार्रवाई के निर्देश

फैसला सुनाते हुए जज ने कहा कि विध्वंस सुनियोजित नहीं था। 6 दिसंबर, 1992 को अयोध्या में कार सेवकों ने बाबरी मस्जिद ढहा दिया था।

फैसला सुनाते हुए जज ने निम्नलिखित पांच अहम टिप्पणियां की हैं-

  • बाबरी मस्जिद का ढहा जाना सुनियोजित घटना नहीं थी.
  • मामले में आरोपियों के खिलाफ ठोस और पर्याप्त सबूत नहीं हैं.
  • जो लोग मस्जिद की गुंबद पर चढ़े थे, वे सभी असामाजिक तत्व थे.
  • भाषण का ऑडियो क्लिप क्लिय़र नहीं है.
  • सीबीआई द्वारा उपलब्ध कराए गए ऑडियो-वीडियो टेप की प्रामाणिकता साबित नहीं हो सकी.

बता दें कि 6 दिसंबर 1992 को अयोध्या में मस्जिद का ढांचा गिराया गया था और इस केस में 49 आरोपी बनाए गए थे। इनमें से 17 की मौत हो चुकी है और बचे हुए 32 आरोपियों पर फैसला आया है।

बाबरी केस के 17 आरोपियों की मौत हो चुकी है। इनमें अशोक सिंघल, गिरिराज किशोर, विष्णु हरि डालमिया, मोरेश्वर सावें, महंत अवैद्यनाथ, महामंडलेश्वर जगदीश मुनि महाराज, बैकुंठ लाल शर्मा, परमहंस रामचंद्र दास, डॉ. सतीश नागर, बालासाहेब ठाकरे, तत्कालीन एसएसपी डीबी राय, रमेश प्रताप सिंह, महात्यागी हरगोविंद सिंह, लक्ष्मी नारायण दास, राम नारायण दास और विनोद कुमार बंसल का निधन हो चुका है।

Ground Report के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।

1 thought on “Babri Demolition Case : जज की वो पांच टिप्पणियां, जो आपको सोचने पर मजबूर कर देंगी..”

  1. The Lucknow Court says that the mob spontaneously destroyed the mosque.They imply that Gay Ape Hanoo-man guided the mob.

    AS PER RAMAYANA — THE HANOOMAN THE APE WAS GIVEN 16 SEX SLAVES BY BHARAT !
    Book VI : Yuddha Kanda – Book Of War Chapter [Sarga] 125 43-45

    “O the gentle one! Are you a divine being or a human being, who have come here out of compassion? To you, who have given this agreeable news to me, I shall give in return, for the pleasant tidings, a hundred thousand cows, a hundred best villages, and for wives, sixteen golden complexioned virgin girls of a good conduct, decked with ear-rings, having beautiful noses and thighs, adorned with all kinds of jewels, with charming countenances as delightful as the moon and born in a noble family.”

    Y DID BHARAT GIVE 16 SEX SLAVES TO THE APE ? dindooohindoo

    THE PAWAN PUTTAR BRAHMA CHARI ! WAS HANOOOMAN THE BANDAR RAMA’S GAY PARTNER IN JUNGLES WHILE SWINGING ON TREES !

    HOW ELSE WOULD BANDAR HANOOMAN KNOW THAT RAMA HAD A SMALL LITTLE PENIS ? THIS IS HANOOMAN DESCRIBING THE MALE ANATOMY OF GUESS WHO – RAMA – AND TO

    WHOM IS HE RELAYING IT ? SEETA MAIYA ! dindoohindoo

    Book V : Sundara Kanda – Book Of Beauty Chapter [Sarga] 35 18.”He has three folds in the skin of his neck and belly. He is depressed at three places (viz. the middle of his soles, the lines on his soles and the nipples). He is undersized at four places (viz. the neck, membran virile, the back and the shanks). He is endowed with three spirals in the hair of his head.

    COGITO !

Comments are closed.