Home » HOME » Arnab Goswami की गिरफ़्तारी के समर्थन में ट्विटर टॉप ट्रेंड #WellDoneMumbaiPolice

Arnab Goswami की गिरफ़्तारी के समर्थन में ट्विटर टॉप ट्रेंड #WellDoneMumbaiPolice

Sharing is Important

महाराष्ट्र पुलिस ने बुधवार सुबह रिपब्लिक टीवी के एडिटर इन चीफ अर्नब गोस्वामी (Arnab Goswami) को उनके घर से गिरफ्तार कर लिया है। अर्नब गोस्वामी पर 2018 में एक मां और उसके बेटे को आत्महत्या के लिए उकसाने का आरोप है। गिरफ्तारी के बाद से ट्विटर टॉप ट्रेंड में अर्नब गोस्वामी हैं और लगभग पूरे दिन सोशल मीडिया पर उन्ही पर अलग अलग टिप्पणियां हुई।

ALSO READ: Arnab Goswami Arrested: BJP को याद आई प्रेस की आज़ादी, देखें किस मंत्री ने क्या कहा

इसी बीच लोग दो भागों में बंटे हुए नज़र आये, एक तरफ अर्नब पर नफरत फ़ैलाने के आरोप हैं तो दूसरी ओर कुछ लोग उनकी गिरफ्तारी का विरोध कर रहे हैं। कभी ट्रेंड्स में रहा #IstandwithArnab तो आज लगभग पूरे दिन मुंबई पुलिस को ऑनलाइन शबाशी देने वाला #WellDoneMumbaiPolice हैशटैग टॉप ट्रेंड्स में है। हंसराज मीना ने ये हैशटैग शुरू किया और तभी से ये हैशटैग टॉप ट्रेंड कर रहा है।

READ:  Why are Railway Students Demanding Justice?

बताया जा रहा है कि यह मामला 2018 का है। 2018 में एक 53 साल के इंटीरियर डिजाइनर अन्वय नाईक और उनकी मां ने आत्महत्या कर ली थी। कथित तौर पर आत्महत्या से पहले अन्वय नाईक द्वारा लिखे गए सुसाइड नोट में लिखा था कि आरोपी अर्णव गोस्वामी (Arnab Goswami) और उनके दो साथियों ने उनका 5.40 करोड़ रुपए नहीं दिया जिसके चलते, मुझे आत्महत्या का कदम उठाना पड़ रहा है। इस पूरे मामले की जांच सीआईडी पहले से ही कर रही थी हालांकि अर्णव गोस्वामी इस मामले में अपने ऊपर लगे सभी आरोपों को खारिज कर चुके है।

ALSO READ: Kanpur Press Club : पत्रकारों ने अर्णब की गिरफ्तारी के विरोध में फूंका उद्धव ठाकरे का पुतला

आपको बता दें अन्वय की पत्नी अक्षता ने मई 2020 में आरोप लगाया था कि रायगढ़ पुलिस इस मामले की ठीक से जांच नहीं कर रही है। उन्होंने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से इस केस में न्याय की गुहार लगाई थी। हालांकि तब रायगढ़ के एसपी अनिल पारसकर ने कहा था कि इस मामले में आरोपियों के खिलाफ कोई सबूत नहीं मिले हैं।

READ:  Who is Vir Das, what's his two Indias controversy

You can connect with Ground Report on FacebookTwitter and Whatsapp, and mail us at GReport2018@gmail.com to send us your suggestions and writeups