आरक्षण विरोधी यह संगठन भी लड़ेगा मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव

Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

न्यूज़ डेस्क।। सवर्णों के हित की लड़ाई लड़ने का दावा करने वाला संगठन सामान्य पिछड़ा अल्पसंख्यक कल्याण समाज संस्था ने राजनीति में उतरने का फैसला कर लिया है। राजनीतिक पार्टी की घोषणा के साथ सपाक्स ने मध्यप्रदेश की 230 सीटों का पर चुनाव लड़ने का फैसला लिया है।

संगठन के संरक्षक रहे हीरालाल त्रिवेदी अब पार्टी अध्यक्ष होंगे। सपाक्स प्रदेश की सभी 230 विधानसभा सीटों पर चुनाव लड़ेगी। करणी सेना व अन्य़ संगठन भी सपाक्स का समर्थन करेंगे। सपाक्स पार्टी ने प्रदेश कार्यकारिणी भी बनायी है। इसमें 4 उपाध्यक्ष भी बनाए गए हैं। एट्रोसिटी एक्ट और प्रमोशन में आरक्षण का विरोध सपाक्स का प्रमुख चुनावी मुद्दा होगा। चुनाव आयोग की मंजूरी के बाद पार्टी का चुनाव चिन्ह तय होगा।

बीते दिनों भोपाल में महाक्रांति रैली के बाद सपाक्स ने सरकार पर आरोप लगाया था कि उसने रैली को नाकाम करने के लिए हर तरीके के हथकंडे अपनाए। 18 ट्रेनें रद्द करने के साथ-साथ भोपाल शहर में सभा की अनुमति भी नहीं दी गई। इसके बावजूद सवर्ण समाज के सैकड़ों लोग रैली में शामिल होने भोपाल आए। एट्रोसिटी एक्ट के विरोध पर प्रदेश की सियासत में कई खिलाड़ी मैदान में कूद चुके हैं। सपाक्स भी अपना पूरा दम दिखा रही है। सपाक्स पार्टी मजबूत पार्टियों के लिए आखिर कितनी मुश्किल पैदा करेगी ये तो आने वाला वक्त ही बताएगा।