गांधी का सत्याग्रह था ढोंग, इतिहास पढ़कर खून खौलता है:भाजपा नेता

Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

ग्राउंड रिपोर्ट | न्यूज़ डेस्क

अनन्त कुमार हेगड़े भाजपा के बड़े नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री ने विवादित बयान दिया है। उन्होंने बेंगलुरू में एक कार्यक्रम के दौरान कहा कि जब वे इतिहास पढ़ते हैं तो उनका खून खौलता है। कैसे गांधी जैसे लोगों को हमारे देश में महात्मा कहा जा सकता है। भारत को आज़ादी गांधी के सत्याग्रह से नहीं मिली, वे खुद अपनी मजबूरियों की वजह से देश छोड़ कर गए। गांधी का सत्याग्रह सिर्फ ढोंग था, आज़ादी का आंदोलन अंग्रेजों के साथ मिलकर किया गया एक ड्रामा था। कैसे इन नेताओं को एक भी डण्डा आज़ादी की लड़ाई में नहीं पड़ा। अनंत हेगड़े भाजपा के कद्दावर नेताओं में से एक हैं। वे कई बार विवादित बयान देकर सरकार को मुसीबत में डाल चुके हैं।

ALSO READ:  तो इसलिए बनाया गया था फडणवीस को 3 दिन का CM, BJP मंत्री ने खोले राज़

ALSO READ: गाँधी के ‘सपनों के भारत’ पर कुठाराघात है सरकारों की नीतियाँ

मोदी सरकार में बढ़े गांधी पर हमले

मोदी सरकार के दौरान महात्मा गांधी पर विवादित बयान आना आम हो गया है। भाजपा के कई बड़े नेता गांधी पर हमले कर चुके हैं। भोपाल से भाजपा सांसद ने गांधी के हत्यारे गोडसे को देशभक्त बताया फिर संसद में भी इस बात को दोहराया। भाजपा प्रवक्ता अमिताभ सिन्हा ने लाइव टीवी कार्यक्रम में खुदको गोडसे भक्त कहा। अब भाजपा के नेता अनंत हेगड़े ने भी सत्याग्रह को ढोंग और महात्मा शब्द पर आपत्ति जताई है। हालांकि प्रधानमंत्री मोदी हर कार्यक्रम या अहम मौके पर गांधी को याद करने से नहीं चूकते। उन्होंने साध्वी प्रज्ञा के बयान पर आपत्ति भी जताई थी। हालांकि अभी तक भाजपा नेताओं को खुले तौर पर प्रधानमंत्री मोदी ने कोई चेतावनी नहीं दी है।

ALSO READ:  गांधी जयंती पर नाथूराम गोडसे ज़िंदाबाद कर रहा ट्विटर पर ट्रेंड

आप ग्राउंड रिपोर्ट के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@gmail.com पर मेल कर सकते हैं।