Amritsar Train Accident: हादसे की गूंज पाकिस्तान और रूस में भी, पढ़ें 10 बड़ी अपडेट

Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

अमृतसर, 20 अक्टूबर। अमृतसर रेल हादसे में अब तक 60 लोगों की मौत हो चुकी है जबकि 107 लोग घायल बताए जा रहे हैं। कुछ अन्य लोग अभी भी लापता है। मारे गए 60 लोगों में से अब तक 20 की पहचान नहीं हो पाई है। पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह, पंजाब के सांस्कृतिक और पर्यटन मंत्री समेत तमाम कैबिनट मंत्री और आला अधिकारी अमृतसर में मौजूद हैं और इस पूरे घटनाक्रम पर नजर बनाए हुए हैं।

पढ़ें 10 बड़ी अपडेट- 

1) पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह हादसे के करीब 16 घंटों बाद घटना स्थल पर पहुंचे। इस दौरन उन्होंने घायलों और मृतकों के परिजनों से बातचीत की। मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने कहा कि जब कोई हादसा होता है तब सारा का सारा प्रशासन उसमें लग जाता है। हम यहां जितना जल्द हो सकता था, उतना जल्द पहुंचे है। पंजाब की पूरी कैबिनेट आज अमृतसर में ही है।

2) पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने मृतकों के परिजनों को मुआवजे की राशि देने के लिए 3 करोड़ रुपए के फंड को तुरंत जारी करने का आदेश दिए हैं। इससे पहले उन्होंने ट्वीट कर कहा था कि हादसे में मारे गए लोगों के परिजनों को 5-5 लाख रुपये मुआवजा दिया जाएगा।

यह भी पढ़ें: Amritsar Train Accident: अमृतसर में बड़ा हादसा, रावण दहन देख रहे दर्जनों लोगों को ट्रेन ने कुचला, 50 की मौत

3) पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने अमृतसर में हुए रेल हादसे पर गहरा शोक जताया है। पाक पीएम इमरान खान ने ट्वीट कर कहा कि, अमृतसर में हुए रेल हादसे की खबर की आहत हूं। हादसे में मारे गए लोगों के परिजनों के प्रति मेरी संवेदना।

4) अमृतसर स्थित जोड़ा फाटक के पास हुए इस ट्रेन हादसे के चलते घटना स्थल पर बड़ी संख्या में आक्रोशित लोग जमा हो गए। जिसे नियंत्रित करने के लिए पंजाब पुलिस के कमांडो और त्वरित कार्यबल के जवानों सहित भारी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया।

5) अमृतसर रेल हादसे में मारे गए 60 लोगों में एक 13 साल का मासूम भी शामिल है। मासूम के पार्थिव शरीर को लेकर परिजन अमृतसर-जालंधर हाईवे पर इक्ट्ठा हो गए और प्रदर्शन करने लगे। परिजन सरकार से उचित मुआवजे की मांग कर रहे हैं।

यह भी पढ़ें: अमृतसर ट्रेन हादसा: पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह का बड़ा ऐलान, पढ़ें 5 खास बातें

6) अमृतसर रेल हादसे में उन लोगों के मारे जाने की भी खबर है जो लोग रावण दहन के दौरान मंच पर रामलीला कर रहे थे। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, हर साल रावण दहन के दौरान होने वाली रामलीला में दलबीर सिंह राम का किरदार निभाते थे लेकिन दोस्तों के आग्रह पर दलबीर इस बार रावण की भूमिका निभा रहे थे। रामलीला खत्म कर दलबीर भी रावण दहन देखने अपने साथियों के साथ मौजूद थे लेकिन मौत बनकर आई रेल ने उनकी जिन्दगी को भी छीन लिया।

7) रेल राज्य मंत्री मनोज सिन्हा ने कहा कि अमृतसर में हुए रेल हादसे में रेलवे की ओर से कोई गलती नहीं की गई है। उन्होंने कहा कि, भविष्य में पटरियों के नजदीक ऐसे आयोजन करने से बचना चाहिए। ड्राइवर को ट्रेन कहां स्लो करनी है, इसके लिए विशेष निर्देष दिए जाते हैं।

8) अमृतसर रेल हादसे पर रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने भी दुख जताते हुए मृतकों के प्रति शोक व्यक्त किया है। उन्होंने भारत के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से इस दुखी की घड़ी में बात कर अपनी संवेदना प्रकट की है।

यह भी पढ़ें: केरल: भारी बारिश-बाढ़ से हालात बदतर, 324 की मौत, 2,23,000 लोगों को सेना ने किया रेस्क्यू

9) अमृतसर रेल हादसे में प्रशासन की ओर से हेल्पलाइन नंबर जारी किए गए हैं। हादसे से जुडी तमाम जानकारी के लिए 01832223171 और 01832564485 पर संपर्क किया जा सकता है। इसके अलावा घटना स्थल से नजदीकी मनवाला रेलवे स्टेशन 0183-244024 और 0183-2402927 के नंबर जारी किए गए हैं। जबकी फिरोजपुर हेल्पलाइन नंबर 016321072 है।

10) अमृतसर ट्रेन हादसे के बाद अमृतसर-मनावला सेक्शन की ओर से आने जाने वाली सभी रेलगाड़ियों के रूट डायवर्ट कर दिए गए हैं। रेलवे के मुताबिक 10 मेल और 27 पैसेंजर ट्रेनों को रद्द कर दिया गया है जबकी 16 ट्रेन के रूट बदल दिए गए हैं।

यह भी पढ़ें: Amritsar train accident: Everything you need to know