Home » 13 साल की लड़की पर 144 बार चाकू से वार, 14 साल के लड़के ने पार की क्रूरता की हद!

13 साल की लड़की पर 144 बार चाकू से वार, 14 साल के लड़के ने पार की क्रूरता की हद!

America
Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

America: यह मामला अमेरिका (America) के फ्लोरिडा (Florida) का है। फ्लोरिडा (Florida) में एक 14 साल के लड़के ने 13 साल की लड़की को चाकू घोप कर मार डाला। मामला इतना डरा देने वाला है कि सवाल उठता एक नाबालिग बच्चे में इतनी क्रूरता क्यों। उस 14 साल के लड़के ने 114 बार लड़की पर चाकू से वार कर उसकी हत्या कर दी। वह तब तक मरता रहा जब तक खुद वार करते करते थक नहीं गया।

लड़के ने दोस्तों को बताई थी हत्या की बात

जाँच से पता चला है कि यह लड़का एडेन फूसी और लड़की ट्रिस्टिन बेली पहले दोस्त थे। लड़की एक चीयर लीडर थी। उसे आखरी बार 9 मई को देखा गया था। उसके दोस्तों से पूछताछ करने पर उन्होंने बताया कि उसने अचानक किसी को मारने का प्लान बनाया था और उसने इस बारे अपने कुछ दोस्तों को बताया भी था, लेकिन यह नहीं बताया था कि वह किसे मारना चाहता है।

दलित उत्पीड़न की 10 दर्दनाक दास्तान, देश फैले जातिवाद को चीख-चीख कर बयां करती है

कहां मिला ट्रिस्टनी बेली का शव

लड़की को 9 मई को गायब हुई थी। ट्रिस्टनी सेंट जॉन्स काउंटी शेरीफ के ऑफिस से लापता हुई थी। उसे आखिरी बार उसी  आधी रात को देखा गया था। इसके बाद उसे तलाशने का काम शुरू हुआ और शाम को करीब 6 बजे उसका शव एक तालाब के पास मिला। जांच के बाद फूसी को इस मामले का गुनेहगार  पाया गया। 11 मई को पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया। इस बीच शव को पोस्टमार्टम के लिए ले जाया गया जिसमें ये बात सामने आई कि बेली पर 114 बार चाकू से वार किए गए थे। इसमें 49 घाव उसके हाथ, बाहों और सिर पर मिले।

READ:  Anti-conversion laws for minorities: धर्म परिवर्तन विरोधी कानून अल्पसंख्यकों के लिए क्यों बना परेशानी का विषय?

एडेन का केस वयस्क अदालत में हुआ ट्रांसफर

वैसे तो एडेन एक नाबालिक है और नाबालिकों पर उनकी उम्र का ध्यान रखकर मुकदमा चलाया जाता है, लेकिन उसकी क्रूरता देखकर उसका केस वयस्क अदालत में शिफ्ट कर दिया गया। उसने अपनी दोस्त ट्रिस्टनी बेली की 114 बार चाकू मारकर हत्या कर दी जिसके तुरंत बाद उसकी मौत हो गयी। जब लड़के को गिरफ्तार किया गया तो उसने अपना जुर्म कुबूल कर लिया।

Kashmiri बच्ची का वीडियो देख पिघला उप-राज्यपाल मनोज सिन्हा का दिल, शिक्षा विभाग को दिए ये निर्देश

अदालत सुना सकती है आजीवन कारावास की सजा

फिलहाल, अदालत ने अपनी कार्रवाई शुरू कर दी है। सेंट जॉन्स काउंटी में स्टेट अटॉर्नी के कार्यालय ने गुरुवार को ग्रैंड जूरी के जरिए लड़के को प्रथम श्रेणी की हत्या के आरोप में गुनहगार साबित कर दिया है। इस कहा जा रहा है कि एडेन फूसी को आजीवन कारावास की सजा भी सुनाई जा सकती है।

READ:  उत्तरप्रदेश के मेरठ में प्रेमी के शादी से इंकार करने पर प्रेमिका ने लगाया छेड़छाड़ का आरोप

ताज्जुब की बात यह है कि अभी तक यह पता नहीं चल पाया है कि एडेन ने ट्रिस्टनी को क्यों मारा। लेकिन सबको शक तब हुआ जब बेली की लाश जंगल में मिली। और जिस चाकू से उसकी हत्या हुई वो एडेन के घर के पास वाले तालाब के किनारे मिला।

Ground Report के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।