नागपुर से एलिस्टर कुक के करियर को ऐसे मिली थी उड़ान, अब भारत के खिलाफ खेलेंगे अंतिम मैच

Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

रिपोर्ट- आयुष ओझा

इंग्लैंड के पूर्व कप्तान और सलामी बल्लेबाज एलिस्टर कुक ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कहने का फैसला कर लिया है, भारत के खिलाफ ओवल में होने वाले आखिरी टेस्ट मैच के बाद कुक अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कह देंगे। कुक इंग्लैंड के एक महान बल्ल्लेबाज हैं और उन्होंने अंतरराष्ट्रीय टेस्ट क्रिकेट में इंग्लैंड के लिए अभी तक 12254 रन बनाने के साथ साथ इंग्लैंड के लिए सबसे ज्यादा 160 टेस्ट मैच खेले हैं।

ओवल में यह उनका 161वां टेस्ट मैच होगा जो कि उनके करियर का आखिरी मैच होगा। कुक लंबे समय से खराब फॉर्म से गुजर रहे हैं। प्लेइंग 11 में उनके स्थान को लेकर भी काफी सवाल उठाए जाने लगे थे। भारत के खिलाफ मौजूदा सीरीज में भी वह रन बनाने में असफल रहे हैं। हालांकि वह एसेक्स के लिए काउंटी क्रिकेट में खेलते रहेंगे।

यह भी पढ़ें: अजीत वाडेकर: क्रिकेट की दुनिया का वो ‘सितारा’ जिसने टीम इंडिया को लड़ना नहीं, जीतना सिखाया था

कुक ने एक बयान में अपने सन्यास की जानकारी देते हुए कहा, ‘पिछले कुछ महीनों में काफी सोच विचार के बाद मैंने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लेने का फैसला किया है। भारत के खिलाफ ओवल टेस्ट मेरे करियर का आखिरी टेस्ट मैच होगा। हालांकि यह एक दुख भरा दिन है लेकिन मैं अपने चेहरे पर खुशी के साथ यह बात कह सकता हूं क्योंकि मैं जानता हूं कि मैं अपना सब कुछ दे दिया है और मेरे पास अब देने के लिए कुछ नहीं बचा है।’

ALSO READ:  ICC World Cup 2019 में कॉमेंट्री करते नजर आएंगे सौरभ गांगुली, संजय और हर्षा भोगले, देखें लिस्ट

उन्होंने आगे कहा, ‘मैंने जो हासिल किया उसके बारे में मैंने कभी विचार भी नहीं किया था। इतने लंबे समय तक इंग्लैंड टीम के दिग्गजों के साथ खेलकर मैं गर्व महसूस कर रहा हूं।’ इंग्लैंड के सबसे कामयाब बल्लेबाज ने कहा कि टीम के कुछ साथियों के साथ भविष्य में ड्रेसिंग रूम न शेयर करने का विचार ही मेरे लिए काफी चुनौतीपूर्ण है। लेकिन मैं जानता हूं कि यही सही वक्त है।

यह भी पढ़ें: सौरव गांगुली हो सकते हैं बीसीसीआई के नए ‘बॉस’, नियमों में बदलाव के बाद ‘दादा’ सबसे फिट

कुक ने अपने करियर की शुरुआत 2006 में भारत के खिलाफ नागपुर में की थी। उन्होंने इस मैच में शतक लगाया था। यह संयोग ही है कि उनके करियर का आखिरी टेस्ट मैच भी भारत के ही खिलाफ होगा।

टेस्ट क्रिकेट में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाजों की लिस्ट में वह फिलहाल छठे स्थान पर हैं। उनसे आगे सचिन तेंडुलकर [15,921], रिकी पोंटिंग [13,378], जैक कालिस [13,289], राहुल द्रविड़ [13,288] और कुमार संगकारा (12,400) हैं।

यह भी पढ़ें: विदेशी ज़मीन पर क्यों नहीं जीत पा रही टीम इंडिया?

कुक के नाम फिलहाल 32 टेस्ट शतक हैं। कुक ने रेकॉर्ड 59 टेस्ट मैचों में इंग्लैंड की कप्तानी भी की। इसमें 24 टेस्ट मैचों में इंग्लैंड ने जीत हासिल की। वह माइकल वॉन के बाद इंग्लैंड के सबसे कामयाब कप्तान भी रहे।

इसके अतिरिक्त कुक ने इंग्लिश टीम को भारत में भारत के खिलाफ 2012 में एतिहासिक जीत भी दिलाई है जिसमे बतौर बल्लेबाज उन्होंने 3 शतक जड़े थे , और कुक ने इंग्लैंड के लिए लंबे समय तक ओपनर की भूमिका निभाई और वो टेस्ट के सफलतम ओपनर में से एक हैं।

ALSO READ:  अजीत वाडेकर: क्रिकेट की दुनिया का वो 'सितारा' जिसने टीम इंडिया को लड़ना नहीं, जीतना सिखाया था

यह भी पढ़ें: टीम इंडिया के धाकड़ बल्लेबाज रोहित शर्मा का T-20 क्रिकेट पर बड़ा बयान, कही ये बात

समाज और राजनीति की अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर फॉलो करें- www.facebook.com/groundreport.in/

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.