Home » नागरिक उड्डयन मंत्री बनते ही सिंधिया की मध्य प्रदेश को बड़ी सौगात!

नागरिक उड्डयन मंत्री बनते ही सिंधिया की मध्य प्रदेश को बड़ी सौगात!

Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

नागरिक उड्डयन मंत्री (Civil Aviation Minister) का पदभार संभालते ही ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) ने मध्य प्रदेश के लोगों को बड़ी सौगात दी है। उड्डयन मंत्रालय ने मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के लिए आठ नई फ्लाइट्स (Flights) को मंजूरी दी है, जो 16 जुलाई से संचालित होंगी। इस में ग्वालियर-अहमदाबाद, ग्वालियर-पुणे, ग्वालियर-जबलपुर, ग्वालियर-मुंबई फ्लाइट भी शामिल हैं। ऐसे में ग्वालियर अब इन चार शहरों से भी हवाई सुविधा से जुड़ गया है।

ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) ने ट्वीट कर इस बात की जानकारी दी। उन्होंने लिखा, ‘ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के कुशल नेतृत्व में नागरिक उड्डयन मंत्रालय उड़ान योजना को नई ऊंचाइयों की ओर अग्रसर करने के लिए पूरी तरह से संकल्पित है। हमारे लिए अत्यंत हर्ष का विषय है कि स्पाइस जेट (Spicejet) 16 जुलाई से मध्यप्रदेश से 8 नई उड़ाने शुरू करने जा रहा है।’

ज्योतिरदित्य सिंधिया – फोटो: सोशल मीडिया

IND vs ENG W T20: हरलीन देओल ने बाउंड्री लाइन पर ‘सुपरवुमेन’ बन पकड़ा हैरतअंगेज कैच, हर कोई रह गया हैरान

सिंधिया ने 8 जुलाई को विमानन मंत्री (Aviation Minister) का पद भार ग्रहण किया था। दो दिन बाद ही उन्होंने मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के लिए 8 नई फ्लाइट को मंजूरी दी। प्रदेश के लिए आठ नई फ्लाइट स्वीकृत की गई है। खास बात यह है कि इसमें ग्वालियर चंबल अंचल के निवासियाें काे भी तीन नई फ्लाइट मिली है। अब ग्वालियर अहमदाबाद, जबलपुर, पुणे और मुंबई से हवाई सेवा से जुड़ जाएगा। एयर कनेक्टिविटी बढ़ने के साथ ग्वालियर क्षेत्र के विकास को गति मिलेगी।

READ:  Agri Minister flagged off Nano Urea for farmers in Madhya Pradesh

Madhya Pradesh: 30 हजार स्कूलों में 12 जुलाई से हड़ताल, नहीं होगी ऑनलाइन पढ़ाई और परीक्षा

ग्वालियर-चंबल अंचल प्रदेश के अन्य जिलाें की तुलना में एयर कनेक्टिविटी के मामले में काफी पीछे है। यहां से वर्तमान में बैंगलुरू, जम्मू, हैदराबाद, नई दिल्ली, काेलकाता के लिए हवाई सेवा उपलब्ध है। ऐेसे में में लंबे समय से इस इलाके के लोग मुंबई, पुणे के लिए हवाई सुविधा उपलब्ध कराने की मांग कर रहे थे। सिंधिया भी इसके लिए लंबे समय से प्रयासरत थे।

Ground Report के साथ फेसबुक, ट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।