Home » HOME » साल 2020 की वो 5 बड़ी घटनाएं, जो हमेशा रहेंगी याद

साल 2020 की वो 5 बड़ी घटनाएं, जो हमेशा रहेंगी याद

2020 बड़ी घटनाएं
Sharing is Important

इस दुनिया को साल 2020 ने अनगिनत ऐसे दुख दिए हैं जिनको भुला पाना इतना आसान नहीं होगा। यह साल गुज़रने को ही है। साल के शुरूआत में कोरोना से उपजी चुनौतियों से लड़ने में ही साल बीत गया। दुनिया ने लॉकडाउन का सामना किया और वर्तमान में भी कई देश लॉकडाउन से गुज़र रहे हैं। भारत में दुनिया का सबसे सख्त लॉकडाउन लगाया गया। आइए, 2020 में घटी बड़ी घटनाओं पर डालते हैं एक नज़र..

कोरोनावायरस

कोरोनावायरस ने देश के साथ-साथ पूरी दुनिया को हिलाकर रख दिया। बड़ी आबादी और स्वास्थ्य सुविधाओं की लचर व्यवस्था ने भारत की चिंता और बढ़ाई। महामारी का कहर इस कदर बरपा कि देखते ही देखते 180 से ज्यादा देशों को अपनी चपेट में ले लिया।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, देश में कोरोना वायरस के अब तक 1 करोड़ 1 लाख 23 हजार 778 मामले सामने आ चुके हैं। हालांकि, इसमें से करीब 97 लाख लोग ठीक हो चुके हैं।

भारत में कोरोना

किसान आंदोलन

केंद्र सरकार सितंबर महीने में 3 नए कृषि विधेयक लाई, जो संसद की मंजूरी और राष्ट्रपति की मुहर के बाद कानून बने। किसानों को ये कानून रास नहीं आ रहे हैं। किसान ‘दिल्ली चलो अभियान’ के तहत राष्ट्रीय राजधानी और उसके आसपास के इलाकों में डेरा डाले हुए हैं और सरकार से लंबी लड़ाई को तैयार हैं। किसानों को न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) खत्म हो जाने का डर सता रहा है।

farm laws

दिल्ली दंगा, शाहीनबाग प्रदर्शन

पिछले साल के अंत में पेश नागरिकता संशोधन विधेयक (CAB) संसद की मंजूरी के बाद कानून तो बन गया, लेकिन इसका विरोध 2020 में भी नहीं थमा। नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के विरोध में पूर्वोत्तर से उठी आवाज 2020 की शुरुआत तक देशभर में विरोध प्रदर्शन की शक्ल ले चुकी थी। दिल्ली के शाहीनबाग में सीएए के खिलाफ लंबे समय तक प्रदर्शन चला और हजारों की संख्या में लोग शामिल हुए।

Tahir Hussain Behind Delhi Violence

गलवान में भारत-चीन झड़प

पूर्वी लद्दाख में भारत और चीन के बीच लंबे समय से सैन्य गतिरोध चल रहा है। विवाद पैदा करने के लिए चीन ने गलवान घाटी में सैन्य तैनाती बढ़ाई, जवाब में भारत ने भी सैनिकों का जमावड़ा मजबूत कर दिया। 15-16 जून की दरमियानी रात गलवान घाटी में भारत और चीन के सैनिक आमने-सामने आ गए। भारत और चीन के सैनिकों में हिंसक झड़प हुई, जिसमें भारत के 20 जवान की जान कुर्बान हुई।

LOC AND LAC EXPLAINED

राम मंदिर शिलान्यास

लंबी कानूनी लड़ाई के बाद सुप्रीम कोर्ट के फैसले ने अयोध्या में भव्य राम मंदिर का रास्ता तैयार किया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अगस्त 2020 में राम मंदिर निर्माण के लिए भूमि पूजन किया और मंदिर की आधारशिला रखी। मंदिर के निर्माण का काम तेजी से चल रहा है।

Ground Report के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।