पंजाब : आश्रम गई 2 महिलाओं को बंदी बनाकर पुजारियों ने किया रेप, महंत समेत दो गिरफ्तार

Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Ground Report | News Desk

अमृतसर के रामतीर्थ मंदिर में दो महिलाएं माथे टेकने गई थी, वहां मौजूद आश्रम के चार प्रमुखों ने मिलकर महिलाओं के साथ रेप कर दिया। इन चार आरोपियों में से दो को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है बाकी दो फरार हैं। पुलिस ने महिलाओं की शिकायत पर आश्रम के इन चारों प्रमुखों के खिलाफ गैंगरेप का मामला दर्ज कर लिया है। मौके पर पहुंची टीम ने इन दोनों आरोपियों का मेडिकल कराने के बाद उन्हें हिरासत में ले लिया गया।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार बटाला के तलवंडी भरतवाल और गांव चांगला निवासी 20 साल की और 40 साल की दो महिलाएं रविवार को रामतीर्थ में माथा टेकने आई थी। पहले से मौजूद आश्रम के दो शिष्‍यों- सूरज नाथ और नछत्‍तर नाथ वहां पहले मौजूद थे। इन लोगों का कमरा डेरे लगा हुआ ही था। इन दोनों आरोपियों मिलकर महिलाओं के साथ रेप किया। महिलाओं ने बताया जब वे उनकी शिकायत करने आश्रम के दो प्रमुखों- गिरदारी नाथ और गिरधारीर वरिंदर नाथ के पास गईं, तो इन दोनों ने भी रेप किया।

ALSO READ:  School will be reopened in Punjab from this date

अमृतसर पुलिस के अधिकारियों ने मीडिया से बात करते हुए बताया कि- मुख्य आरोपी की पहचान महंत गिरधारी नाथ के रूप में की गई है, जो अमृतसर के लोपोके पुलिस स्टेशन के अंतर्गत स्थित गुरु ज्ञान नाथ आश्रम वाल्मीकि तीर्थ में मुख्य पुजारी के रूप में काम कर रहा था। दूसरे शख्स का नाम वरिंदर नाथ है। ये शख्स महंत गिरधारी नाथ का सहयोगी है।

पीड़ित महिलाओं ने पंजाब राज्य अनुसूचित जाति आयोग के सदस्य तरसेम सिंह को एक पत्र में सूचित किया था कि उन्हें अवैध रूप से आश्राम में रखा गया है और महंत के द्वारा बार-बार बलात्कार किया जा रहा है।इस सूचना पर तत्काल कार्रवाई करते हुए लोपोके पुलिस ने सोमवार को आश्रम परिसर में छापा मारा और पीड़ित महिलाओं को आश्रम से आजाद कराया। पुलिस ने महंत गिरधारी नाथ और उसके साथी वरिंदर नाथ को मौके से ही गिरफ्तार कर लिया। जबकि नछत्र सिंह और सूरज नाथ नाम के दो शख्स आश्रम से भाग निकले, पुलिस अब इनकी गिरफ्तारी की कोशिश कर रही है।

ALSO READ:  In Pakistan A doctor of Ahmadi community killed, three injured

ग्राउंड रिपोर्ट के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।