Home » Corona: देश में हर दिन 20 लाख कोरोना टेस्ट हो रहे हैं

Corona: देश में हर दिन 20 लाख कोरोना टेस्ट हो रहे हैं

how to cure coronavirus if tested positive
Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Corona: कोरोना से बचने के लिए सोशल डिस्टेंसिंग (Social Distancing) में क्या 6 फिट की दूरी पर्याप्त है। इस विषय पर आयोजित एक वेबिनार में राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के शीर्ष डॉक्टरों ने हिस्सा लिया और कोरोना (Corona) से बचाव के लिए जरूरी तथ्यों पर अपनी राय और निष्कर्ष दिए। इसमें डॉ. हर्ष महाजन (Dr. Harsh Mahajan)(संस्थापक , महाजन इमेजिंग), डॉ. नीरज जैन (Dr. Niraj Jain) (श्री गंगा राम अस्पताल के चेस्ट मेडिसिन के अध्यक्ष) और डॉ. राहुल गुप्ता (Dr. Rahul Gupta) (वरिष्ठ फिजिशियन) पैनल ने स्वास्थ्य संकट पर अपने विचार अनुभव साझा किए।

इस पैनल में आईपीई ग्लोबल के प्रबंध निदेशक अश्वजीत सिंह (Ashwajeet Singh, MD, IPL Gloabal) बतौर मॉडरेटर शामिल हुए। इस दौरान डॉ. हर्ष महाजन ने कहा कि, “एक तीसरी लहर होगी “। समय की जरूरत है कि आप नकाब पहनें क्योंकि यह न केवल स्वयं बल्कि आपके आसपास के अन्य लोगों की भी रक्षा करता है। देश भर में करीब 2400 सरकारी और निजी प्रयोगशालाओं के माध्यम से हर रोज 2 मिलियन कोविड टेस्ट हो रहे हैं। इनमें आरटी-पीसीआर और रैपिड एंटीजेन दोनों टेस्ट शामिल हैं।

READ:  10-day quarantine for UK visitors to India
20 lakh corona test every day in India

घर पर ही संभव है कोरोना का इलाज, पर बरतें जरूरी सावधानियां

वहीं डॉ. नीरज जैन ने इस मामले में अपनी चिंता जाहिर करते हुए कहा कि दूसरी लहर पहली लहर से ज्यादा खतरनाक है। इसका संक्रमण भी काफी तेजी से फेसला है इसलिए इस बात में कोई आश्चर्यज नहीं होना चाहिए कि मामले तेजी से क्यों बढ़ रहे हैं। उन्होंने कहा कि इस मामले में अधिक चिंता की बात यह है कि पहली लहर के तुलना में इसमें 4-5 दिन संक्रमण काफी खतरनाक स्तर पर होता है और यह दो से तीन सप्ताह तक रहता है।

ALSO READ: अगर आपकी रिपोर्ट पॉज़िटिव आई है तो यह आर्टिकल ज़रुर पढ़ें

डॉ. राहुल गुप्ता ने कहा कि, ऐसा नहीं कि लोग कोरोना गाइडलाइन का पालन नहीं कर रहे हैं। हमारे बीच ऐसे कई लोग हैं जिन्होंने समय रहते समझदारी दिखाई और सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन किया। यही कारण है कि आज वे सुरक्षित हैं। इन नियमों का पालन सख्ती से होना चाहिए। एक मिनट की लापरवाही भी जानलेवा साबित हो सकती है। उन्होंने कहा कि कोरोना से लड़ने के लिए हमें न सिर्फ शारीरिक बल्कि मानसिक रूप से भी तैयार होना होगा।

READ:  Covid vaccine for children: expert panel approves Covaccine vaccine

Ground Report के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।