Home » HOME » दुनिया के 10 वो देश जहां अभी तक नहीं पहुंचा कोरोना वायरस

दुनिया के 10 वो देश जहां अभी तक नहीं पहुंचा कोरोना वायरस

नहीं पहुंचा कोरोना
Sharing is Important

कोरोना वायरस के कारण दुनिया के तमाम शक्तिशाली देश भी परेशान है। दुनिया में कुल 249 देश हैं, जिनमें से 205 देश कोरोना वायरस से प्रभावित हैं। दुनिया के 249 देशों में से 14 देशों में अभी तक कोरोना वायरस नहीं पहुंचा है। आइए जानते हैं इन भाग्यशाली देशों के बारे में…

बता दें कि आमतौर पर 195 देशों की ही गिनती होती है, लेकिन संयुक्त राष्ट्र के सदस्य (193), ताइवान और वेटिकन सिटी (2), आश्रित प्रदेश (45), आंशिक मान्यता वाले राज्य (2), अनइनहैबिटेट प्रदेश (6) और अंटाकर्टिका को मिलाकर कुल 249 देश हैं।

वो देश जहां अभी तक नहीं पहुंचा कोरोना

  • साओ टोमे और प्रिंसिपे- साओ टोमे और प्रिंसिपे, एक अफ्रीकी द्वीप देश है जो भूमध्य रेखा के करीब है। इसकी आबादी 2.04 लाख है।
  • वानुअतु- वानुअतु एक दक्षिण प्रशांत महासागर राष्ट्र है जो लगभग 80 द्वीपों से बना है। यह 1,300 किलोमीटर तक फैला हुआ है। इसकी राजधानी हार्बरसाइड पोर्ट वेल है। इसकी आबादी 2.76 लाख है।
  • टोंगा- इस देश की आबादी 1.08 लाख है। टोंगा 170 से अधिक दक्षिण प्रशांत द्वीपों का राज्य है। इसकी राजधानी नुकू’आलोफा है।
  • सोलोमन आईलैंड- इसकी आबादी 6.11 लाख है। सोलोमन द्वीप, दक्षिण प्रशांत में सैकड़ों द्वीपों का एक राष्ट्र है।
  • लिसोटो- इस राष्ट्र की आबादी 2.04 लाख है। लेसोथो, दक्षिण अफ्रीका के अधिकार में आता है। इसकी राजधानी मसेरू है। इसकी आबादी 22.3 लाख है।
  • तुवालु- तुवालु दक्षिण प्रशांत का एक द्वीप राष्ट्र है। इसकी राजधानी फनाफुती है। साल 2017 की जनगणना के मुताबिक इसकी आबादी 11,192 है।
  • मार्शल द्वीप समूह- मार्शल द्वीपसमूह गणराज्य प्रशांत महासागर के मध्य एक माइक्रोनेशियाई राष्ट्र है। इसकी आबादी 53,127 है।
  • सेंट किट्स एंड नेविस- सेंट किट्स एंड नेविस एक दोहरे द्वीप वाला राष्ट्र है जो अटलांटिक महासागर और कैरेबियन सागर के बीच स्थित है।
  • किरिबाती- किरिबाती की आबादी 1,19,449 है। किरिबाती मध्य उष्णकटिबंधीय प्रशांत महासागर में स्थित एक द्वीप देश है।
  • कोमोरोस- कोमोरोस अफ्रीका के पूर्वी तट पर मौजूद एक द्वीपसमूह है। इसकी राजधानी मोरोनी है। इसकी आबादी 8.14 लाख है।
READ:  Birds migrate from east to west, possibly due to climate change

Ground Report के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।

ALSO READ