दिल्ली लखनऊ के बीच चलने वाली तेजस एक्सप्रेस हुई बंद

देश की पहली कॉर्पोरेट ट्रेन तेजस हो जाएगी बंद, इन ट्रेनों पर भी संकट

Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

रेलवे द्वारा यात्रियों को बिज़नेस क्लास की सुविधा देने के लिहाज़ से चलाई गए देश की पहली कॉरपोरेट ट्रेन तेजस 23 नवंबर से अगले आदेश तक बंद कर दी जाएगी। लखनऊ-नई दिल्ली के बीच चलने वाली इस लक्ज़री ट्रेन में फ्लैक्सी किराया होने की वजह से सफर महंगा था। इस के कारण लोग ट्रेन में सीटें नहीं बुक करा रहे थे। यात्रियों के अभाव में अब इस ट्रेन को बंद करने का निर्णय लिया गया है। ढेरों सुविधाओं के बावजूद रेलवे प्रशासन यात्रियों को आकर्षित नहीं कर सका। ऐसे में रेलवे बोर्ड ने आईआरसीटीसी को 23 नवंबर से अगले आदेश तक ट्रेन को निरस्त करने के लिए आदेश दिए हैं।

READ:  योगी सरकार के नए आदेश के बाद मज़दूर अब सड़कों पर पैदल नहीं चल पाएंगे..

ALSO READ: Netflix वेबसीरीज़ में मंदिर का किसिंग सीन बना #BoycottNetflix की वजह

तेजस ट्रेन के बंद होने के क्या रहे कारण?

  • लखनऊ से तेजस का संचालन 4 अक्टूबर 2019 को शुरू हुआ था। रविवार को अंतिम बार तेजस सुबह साढ़े छह बजे लखनऊ से नई दिल्ली 200 के करीब यात्रियों को लेकर रवाना हुई। 
  • मार्च में लॉकडाउन बाद तेजस ट्रेन का संचालन 17 अक्तूबर को शुरू हुआ था। उम्मीद थी दीपावली में यात्री मिलेंगे। पर, ऐसा हो नहीं सका।
  • यात्रियों की कम संख्या से शताब्दी, लखनऊ मेल व एसी स्पेशल जैसे वीआईपी ट्रेनों का हाल भी खराब है। इन सभी ट्रेनों में हर चेयरकार से लेकर स्लीपर तक के खीटें खाली चल रही हैं।
  • डायनमिक फेयर लागू होने के चलते केवल 40 फीसदी सीटों की ही बुकिंग हो रही है। यात्रियों को इन ट्रेनों का सफर महंगा पड़ रहा है। फ्लैक्सी फेयर में एयरप्लेन की तरह डिमांड के हिसाब से टिकट का रेट होता है।
READ:  सुपरसोनिक और हाइपरसोनिक स्पीड में क्या अंतर है ?

You can connect with Ground Report on FacebookTwitter and Whatsapp, and mail us at GReport2018@gmail.com to send us your suggestions and writeups

%d bloggers like this: